Browsing: tareef shayari

सांसों में मेरी नजदीकियां का इत्र घोल दे, में ही खो इश्क जाहिर करू, तू भी कभी बोल दे..